रंगदारी लेने वाले फर्जी पत्रकार को किया पुलिस ने गिरफ्तार

रंगदारी लेने वाले फर्जी पत्रकार को नवाबगंज पुलिस ने किया गिरफ्तार।


आज के दौर में मीडिया के नाम पर कई फर्जी पत्रकार, कई जगह फर्जीवाड़ा करते पकड़े गए हैं। इनमे ब्लैकमेलिंग, रंगदारी आदि शामिल हैं।
ऐसी ही एक वारदात उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में देखने को मिली है।


फर्जी पत्रकार मोहम्मद इरफान निवासी कल्याणपुर आवास विकास को नवाबगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 



मोहम्मद इरफान पर रंगदारी लेने का आरोप हैं, टेंपो चालक और टेंपो चालक संस्था के महामंत्री चंद खान से मांगी थी रंगदारी।



जिसका विरोध करने पर 12 सितंबर वीएसएसडी कॉलेज के पास गोवा गार्डन निवासी साथी विनोद अग्निहोत्री, छपरा के मन्नू करिया, समेत 4 लोगों ने उन्हें रोक लिया फर्जी पत्रकार मोहम्मद इरफान ने अपने साथियों के साथ मिलकर चांद खान को पीटा जिसके बाद चंद खान को कई चोट आई और हाथ भी टूट गया, साथ ही चांद खान के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया जिसमें ₹845 लूटे गए। 


पीड़ित का आरोप है कि मोहम्मद इरफान ने ₹600 प्रति दिन कि रंगदारी देने को कहा जिसका विरोध एवं मना करने पर इरफान ने अपने साथियों के साथ मिलकर चांद खान को पीटा और हाथ तोड़ दिया।


चांद खान ने अपने प्रकरण से एसएसपी कानपुर को अवगत करवाया जिसके बाद एसएसपी कानपुर के आदेश पर थाना इंचार्ज ने मोहम्मद इरफान को गिरफ्तार किया।



पुलिस को आदेश मिलने के बाद पुलिस ने मुहम्मद इरफान को गिरफतार कर लिया है और उसके साथियों की तलाश जारी है, और मोहम्मद इरफान के पास से मीडिया परिचय पत्र बरामद हुआ है, उसकी भी जांच चल रही है। और आगे की पूछताछ और कारवाही जारी है। पुलिस पूछताछ से पता लगाना चाह रही है कि मोहम्मद इरफान ने और किन-किन लोगों से रंगदारी ली है या और किन-किन गतिविधियों में अपने साथियों के साथ यह शामिल रहा है।


Featured Post

दिल्ली पुलिस का दिल क्यों सुकड़ गया?

दिल्ली (मोंटू राजा) पीड़ित से रंगदार द्वारा 25000 रंगदारी की मांग, न देने पर जान से मारने की धमकी! अब तक पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं।  य...