प्रयागराज निरंजनी अखाड़े के महंत आशीष गिरी ने गोली मारकर की आत्महत्या.

प्रयागराज


निरंजनी अखाड़े के महंत आशीष गिरी ने गोली मारकर की आत्महत्या.


लीवर की बीमारी से पीड़ित थे महंत आशीष गिरी,..
 बीमारी से परेशान होकर आत्महत्या करने की जताई जा रही है आशंका...


अखाड़ा परिषद अध्यक्ष महंथ नरेंद्र गिरी के अनुसार. आज  सुबह करीब आठ बजे आशीष गिरी से फोन पर बात हुई थी। उन्हें नाश्ते के लिए मठ में बुलाया था, काफी देर बाद भी जब वह नहीं पहुंचे तो उनके शिष्य आवास पर पहुंचे, जहां दूसरी मंजिल पर बने कमरे में खून से लथपथ आशीष गिरी का पार्थिव शरीर था. उनके हाथ में पिस्टल थी.


Featured Post

विवाद के चलते पति ने पत्नी पर फावड़े से किया हमला! पत्नी की गई जान।

  उत्तरपूर्वी दिल्ली कई बार गृह क्लेश किसी की मौत का कारण भी बन जाते हैं। तमाम बार हमने कई ऐसी खबरें भी सुनी देखी और पढ़ी है। की क्रोध में आ...