स्पष्टीकरण के लिए पीसी-डीजीपी 5 लोगों पर कार्रवाई की गई थी-डीजीपी

लखनऊ


डीजीपी ओपी सिंह का बयान


स्पष्टीकरण के लिए पीसी-डीजीपी
5 लोगों पर कार्रवाई की गई थी-डीजीपी


पत्रकारिता की आड़ में ब्लैकमेलिंग कर रहे थे-ओपी


4 लोग अभी भी गैंगेस्टर में जेल में हैं-ओपी सिंह


एसएसपी नोएडा ने केस कराया था-ओपी सिंह


एसएसपी नोएडा ने जांच रिपोर्ट भेजी थी-सिंह


जांच के बिंदू हमने एडीजी मेरठ को भेजा-सिंह


वैभव कृष्ण के पत्र की जांच कराई-डीजीपी


एडीजी ने 15 दिन का समय मांगा-डीजीपी


एडीजी मेरठ 15 दिन में जांच रिपोर्ट देंगे-डीजीपी


एसएसपी नोएडा ने मुकदमा कराया है-डीजीपी


नोएडा के एसएसपी के वायरल वीडियो पर पीसी


गोपनीय पत्र में कई लोगों का जिक्र किया-डीजीपी


गोपनीय पत्र में 6 लोगों का जिक्र-डीजीपी


पीएफआई के मामले में रिहाई मंच 25 लोगो को फिरफ्तार किया


डीजीपी ओपी सिंह का बयान
वैभव कृष्ण ने सर्विस रूल के खिलाफ काम किय़ा-डीजीपी


पत्र को लीक नहीं करना चाहिए था-डीजीपी


पूर्व ओएसडी मनोज भदौरिया का नाम भी आया-डीजीपी


Featured Post

क्या डीडीए 1991 में संसद के बनाए हुए 'वर्शिप एक्ट' को नहीं मानता है? 'मस्जिद टूटने की चीखें नहीं सुनाई देती : इमरान प्रतापगढ़ी

नई दिल्ली दिल्ली के महरौली इलाके में एक मस्जिद पर दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने बीती 30 जनवरी को गैरकानूनी ढांचा बताते हुए बुलडोजर चला द...