जिनको ‘बस’ देनी थी उनको ‘बल’ दिया जा रहाः प्रवासी मजदूरों को लेकर अखिलेश का योगी सरकार पर तंज

जिनको ‘बस’ देनी थी उनको ‘बल’ दिया जा रहाः प्रवासी मजदूरों को लेकर अखिलेश का योगी सरकार पर तंज


19/05/2020  M  RIZWAN



समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रवासी मजदूरों की तकलीफों को लेकर एक बार फिर योगी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आम जनता को ये समझ नहीं आ रहा है कि जब सरकारी, प्राइवेट और स्कूलों की पचासों हज़ार बसें खड़े-खड़े धूल खा रही हैं तो प्रदेश की सरकार प्रवासी मज़दूरों को घर पहुँचाने के लिए इन बसों को सदुपयोग क्यों नहीं कर रही है. ये कैसा हठ है? बस की जगह बल का प्रयोग अनुचित है.



गौरतलब है कि देश भर के प्रवासी मजदूरों की तकलीफें कम होने का नाम नहीं ले रही है, सोशल मीडिया से लेकर अन्य प्लेटफार्मो पर प्रवासी मजदूरों के दर्द भरे वीडियो या तस्वीरें दिखाई दे रही है. हाल के ही दिनों में कई प्रवासी मजदूर सिस्टम की भेंट चढ़ गए. अलग-अलग राज्यों में हुए हाल के ही दिनों में हादसों में कई प्रवासी मजदूरों की मौत हो चुकी है.



उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी में मजदूरों की मौत होने पर मुआवजा देने की घोषणा की है. अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में किसी भी मजदूर की मौत हुई तो समाजवादी पार्टी उसके परिवार को एक लाख रुपये का मुआवजा देगी.


उन्होंने कहा कि वे हर उस मजदूर को 1 लाख मुआवजा देने का काम करेंगे जिसकी मृत्यु यूपी में हुई है. ये मुआवजा उन मजदूरों को भी मिलेगा जो रहते तो यूपी में हैं लेकिन यहां के निवासी नहीं हैं. अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वो सभी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करवाएं.