जनता कर्फ्यू के बाद पैसे जुटाने के लिए पेट्रोल में 18 और डीजल में 12 रूपये बढ़ाने पर हो रहा विचार

दावाः जनता कर्फ्यू के बाद पैसे जुटाने के लिए पेट्रोल में 18 और डीजल में 12 रूपये बढ़ाने पर हो रहा विचार



 


23/03/2020  m rizwan 


 


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से कोरोना वायरस के संकट के चलते लड़खड़ा रही अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए बड़े प्रयास किए जा सकते हैं. वित्त विधेय के चर्चा के दौरान चर्चा पर जवाब देने के लिए वित्त मंत्री के ओर से कुछ जरुरी घोषणाएं भी की जा सकती है.


 



इनमें से इस बात की आशंका जताई जा रही है कि प्रवासी भारतीयों से टैक्स की सीमा को बढ़ाकर 15 लाख रुपये तक किया जा सकता है. जो कहीं और टैक्स नहीं दे रहे हो.


इसके अलावा इस संकट से निपटने के लिए सरकार जनता के जरिए बड़ी वसूली करने के मूड में हैं. इकानामिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक पेट्रोल पर 18 रुपये और डीजल पर 12 रुपये एक्साइज ड्यूटी के तौर पर बढ़ाए जा सकते हैं, इसकी आशंका जताई है.


दरअसल अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर घटी कीमतों के बीच सरकार एक्साइज ड्यूटी को बढ़ाकर खजाने को भरना चाहती है. ताकि कोरोना वायरस के संकट से लड़ने के लिए फंड को जुटाया जा सके.


गौरतलब है कि हाल ही में सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 2 रुपये एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है. वैश्विक स्तर पर जिस तरह से कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आई है, उसको देखते हुए सरकार को पेट्रोल और डीजल में कमी कर जनता को राहत देने का काम करना चाहिए, लेकिन वह इसके बजाय अपना खजाना भरने में प्राथमिकता दे रही है.