कोरोनाः डोम ने छूने से किया इंकार तो मुृस्लिम पड़ोसियों ने कराया अंतिम संस्कार

*कोरोनाः डोम ने छूने से किया इंकार तो मुृस्लिम पड़ोसियों ने कराया अंतिम संस्कार*



05/05/2020  M RIZWAN 


 


पं बंगाल के हांवडा क्षेत्र में आपसी भाईचार की एक बार फिर मिसाल देखने को मिली है. हुआ ये कि यहां पर एक व्यक्ति की मौत हो गई थी, कोराना के संक्रमण के डर से शमशान घाट पर अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया, यहां तक कि डोम ने भी अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया.


इसके बाद मुस्लिम पड़ोसियों ने मिलकर मृतक का अंतिम संस्कार कराया. पडोसियों ने ना सिर्फ शमसान घाट वालों को समझाया बल्कि मृतक के अंतिम संस्कार को भी कराने में सहयोग दिया.



गौरतलब है कि ये घटना कोलकाता से 48 किलोमीटर दूर स्थित हावड़ा के एक छोटे से कस्बे की है. कस्बे का नाम उलुबेरिया है. इस इलाके में हिंदू-मुस्लिम की मिश्रित आबादी निवास करती है. यहां पर रहने वाले रविन्द्रनाथ पाल की शनिवार की रात मौत हो गई. वे बीते कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे.


उनके निधन के बाद और कोरोना वायरस के संक्रमण के ड़र से वहां पर स्थित तीनों शमशान घाट में अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया. इस पर मुस्लिम पड़ोसी मदद के लिए आगे आए. उन्होंने इलाके के काउंसलर के साथ मिलकर शमशान घाट के लोगों को समझाया, उनकी ही सूझबूझ को देखते हुए अंतिम संस्कार हो सका.