पीएम केयर फंड का नहीं दिया जाएगा कोई ब्योरा। आरटीआई द्वारा मांगी गई थी जानकारी।

पीएम केयर फंड का नहीं दिया जाएगा कोई ब्योरा। आरटीआई द्वारा मांगी गई थी जानकारी



देश में कोरोना वायरस महामारी के बाद 28 मार्च 2020 को देश में पीएम केयर फंड बनाया गया जिसमें देश विदेश से लोगों ने डोनेशन दिए। एस केयर फंड के चेयर पर्सन देश के प्रधानमंत्री और वरिष्ठ कैबिनेट मेंबर इसके ट्रस्टी हैं।



बेंगलुरु के एक लॉ के छात्र ने पीएम केयर फंड की डिटेल्स आरटीआई द्वारा प्रधानमंत्री कार्यालय से मांगे आरटीआई में युवक ने कितना फंड आया और कितना खर्च हुआ उसकी जानकारी साझा करने को कहा इस पर प्रधानमंत्री कार्यालय से उसे जवाब नहीं दिया गया। और यह कह दिया गया कि पीएम केयर फंड की जानकारी साझा नहीं की जा सकती।


 


एनडीटीवी ने भी इस पर खबर चलाई थी साथ ही विपक्ष के नेताओं ने भी इस पर खासा सवाल उठाए हैं जिसमें यह कहा गया है कि पीएम केयर फंड की जानकारी साझा नहीं की जा रही है इससे इसकी पारदर्शिता पर सवाल खड़े होते हैं। विपक्ष की माने तो पीएम केयर फंड में हारी घोटाले का अंदेशा लगाया जा रहा है। जिसके चलते जनता व अन्य किसी से पीएम केयर फंड की जानकारी साझा नहीं की जा रही है।