जम्मू-कश्मीर, 16 सितंबर को होगी सुनवाई SC

SC: जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों के खिलाफ दायर याचिकाओं पर फिलहाल कोई आदेश देने से SC ने मना किया है। 16 सितंबर को सुनवाई होगी।


कश्मीर टाइम्स की संपादक की शिकायत थी कि श्रीनगर से उनका अखबार प्रकाशित नहीं हो रहा है। सरकार ने कहा- बाकी अखबार छप रहे हैं। ये जानबूझकर नहीं छाप रहे।


J&K के हालात पर एटॉर्नी जनरल ने SC को बताया- एक एक कर पाबंदिया हट रही हैं। 80 फीसदी लैंडलाइन चालू किए जा चुके हैं


इलाज में दिक्कत की शिकायत झूठी है। इस दौरान 7 लाख से ज़्यादा लोग अस्पताल पहुंचे। 4 हज़ार से ज़्यादा लोगों की बड़ी सर्जरी हुई है। 40 हज़ार से ज़्यादा छोटी सर्जरी हुई।


वहीं सुप्रीम कोर्ट ने महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिज़ा को चेन्नई से श्रीनगर जाने और अपनी माँ से मुलाकात की इजाज़त दी। हालांकि, कोर्ट ने साफ किया कि इसके अलावा श्रीनगर में उन्हें कहीं आने-जाने के लिए प्रशासन की इजाज़त लेनी होगी।



वहीं जम्मू-कश्मीर के CPM नेता यूसुफ तारिगामी को इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में दाखिल करवाया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश पर तारिगामी से मिल कर लौटे पार्टी महासचिव सीताराम येचुरी की रिपोर्ट के आधार पर ये आदेश दिया है।


Featured Post

विवाद के चलते पति ने पत्नी पर फावड़े से किया हमला! पत्नी की गई जान।

  उत्तरपूर्वी दिल्ली कई बार गृह क्लेश किसी की मौत का कारण भी बन जाते हैं। तमाम बार हमने कई ऐसी खबरें भी सुनी देखी और पढ़ी है। की क्रोध में आ...