SC-ST आरक्षण बिल: बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को बताया दलित विरोधी

SC-ST आरक्षण बिल: बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को बताया दलित विरोधी
बता दें, 126वां संशोधन बिल में एससी-एसटी आरक्षण को 10 वर्ष के लिए बढ़ा दिया गया है. साथ ही एंग्लो इंडियन कोटे से होने वाली सांसद की 2 सीटों को भी खत्म करने का प्रावधान है.


लखनऊ. एससी-एसटी आरक्षण (SC-ST Reservation Bill) को 10 वर्ष बढ़ाने वाला 126वां संशोधन बिल गुरुवार को राज्यसभा से पास हो गया. बिल पास हो गया लेकिन बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने उच्च सदन में बिल पारित करने के दौरान बाधा डालने के लिए कांग्रेस पार्टी को लताड़ लगाई है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की ये हरकत दलित विरोधी मानसिकता को दर्शाती है.


मायावती ने ट्वीट किया, 'संविधान के 126वें संशोधन बिल में एससी-एसटी आरक्षण को 10 वर्ष बढ़ाने की व्यवस्था है, जिसके राज्यसभा में पारित होने में बाधा डालकर कांग्रेस ने अपनी दलित विरोधी सोच का परिचय दिया है. हालांकि सभापति की आग्रह पर वे सदन में वापस आए और तब विलम्ब से यह बिल पास हो पाया.


Featured Post

विवाद के चलते पति ने पत्नी पर फावड़े से किया हमला! पत्नी की गई जान।

  उत्तरपूर्वी दिल्ली कई बार गृह क्लेश किसी की मौत का कारण भी बन जाते हैं। तमाम बार हमने कई ऐसी खबरें भी सुनी देखी और पढ़ी है। की क्रोध में आ...