दिल्ली: लॉक डाउन के चलते लोग हुए परेशान, नहीं मिल पा रही है मदद


कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉक डाउन घोषित कर दिया गया है। जिसके चलते दूसरे राज्यों से आए लोगों को वापस अपने प्रदेश जाने में बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।



हजारों लाखों की तादाद में राजधानी दिल्ली में काम करने आए अन्य राज्यों से लोग अब पलायन कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि कोरोना वायरस के चलते लोग डाउन हुआ जिसके बाद अब उनका काम कारोबार सब खत्म हो गया है और नौकरी नहीं बची है। दिल्ली की अलग-अलग जगहों पर रह रहे लोगों ने अब घर वापसी का फैसला लेते हुए अपने घर वापस जाने की कोशिश करते सड़कों पर नजर आ रहे हैं।



लॉक डाउन के चलते देश में रेल गाड़ी वापस सेवाएं स्थाई रूप से बंद कर दी गई हैं जिसके कारण लोग अपने गांव व स्थानों पर जाने में असमर्थ हैं लोगों का कहना है कि रोजगार ना होने के कारण उनको दिल्ली से वापस अपने गांव और क्षेत्रों में जाना होगा। हजारों की संख्या में लोग ऐसे हैं जो अपने कारखानों व फैक्ट्रियों में ही सो जाया करते थे अब कारखाने और फैक्ट्री बंद होने के बाद उनके सोने रहने खाने पीने की कोई भी व्यवस्था, उन्हें नजर नहीं आ रही है जिसके चलते वह स्वयं व अपने परिवार के साथ पलायन पर मजबूर हैं।


दिल्ली गाजियाबाद के बॉर्डर पर जाते सैकड़ों लोग नजर आए चाहे वह भोपुरा बॉर्डर हो या फिर आनंद विहार का बॉर्डर या फिर वह विवेक विहार की रेल की पटरी हो। परेशान लोगों ने दिल्ली की अलग-अलग जगहों से कई किलोमीटर पैदल चलकर बॉर्डर तक का सफर तय किया और अब लोगों का कहना है कि अगर उन्हें कोई भी वाहन नहीं मिलता है तो वह पैदल ही कई कई सौ किलोमीटर की दूरी तय करेंगे, और अपने घरों में वापस पहुंचेंगे।


लोगों से बात करने पर लोगों ने बताया कि उनको रहने व खाने का इंतजाम नहीं हो पा रहा है वहीं प्रशासन भी उनकी मदद करने में असमर्थ है सरकार की तरफ से किसी भी तरह की मदद नहीं मिल पा रही है।