कोरोना वायरस के चलते, क्षेत्रों में उमड़ी गंदगी! नहीं आता कोई सफाई कर्मचारी

कानपुर:


देशभर में कोरोना का प्रकोप जारी है, जिसके चलते देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनता से आग्रह कर रहे हैं कि वह साफ सफाई का खासा ध्यान रखें लॉक डाउन के चलते सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें, कुछ कुछ समय बाद अपने हाथों को साबुन से धोएं ताकि वह स्वच्छ रहें और कोरोना वायरस की चपेट में आने से बच सकें।



जिस समय लॉक डाउन के चलते जनता यह देख रही है कि इस समय डॉक्टर पुलिस व सफाई कर्मचारी अहम भूमिका निभाते नजर आ रहे हैं। वहीं कई जगहों पर इस सब से बिल्कुल उलट चीजें दिखाई दे रही हैं। ऐसी ही एक खबर उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर के नवाबगंज गुडियाने की है। यहां पर रह रहे लोगों की शिकायतें काफी बढ़ गई हैं लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र में कोई भी सफाई कर्मचारी अपना कार्य नहीं करता है। नालियां भरी हुई है कूड़े से गली के कोनों पर कूड़े के ढेर लगे हैं। जिसके चलते गंदगी फैलने और उससे बीमारी फैलने के खतरे काफी बढ़ जाते हैं।



स्थाई लोगों का कहना है की कोई भी सफाई कर्मचारी यहां पर आकर सफाई नहीं करता है सफाई कर्मचारी को बुलाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है कई बार फोन करके कंप्लेंट करने पर एक दो बार सफाई कर्मचारी आते हैं। और जिसके चलते हम सब निवासियों को बढ़ती गंदगी और कूड़े के बीच में ही रहना पड़ता है। एक जगह पर यह भी देखने को मिला कि पीने का पानी भर रहे लोगों का यह कहना है की नाली के पास इतनी गंदगी है और नाली के पास से ही जो सरकारी नल लगा है उसमें से हम पीने का पानी भर रहे हैं जिसके चलते हमारी सेहत को काफी खतरा है।


लोगों का कहना है कि सफाई नायक और सफाई सूबेदार की सांठगांठ के चलते वह लोग सरकार से तनख्वाह तो प्राप्त करते हैं। परंतु क्षेत्र के अंदर किसी तरह की कोई सफाई का कार्य नहीं करते और सरकार को चूना लगा रहे हैं। वाह क्षेत्र के अंदर कोई भी अधिकारी भ्रमण नहीं करता है जिससे कि जमीनी हकीकत का अधिकारी को पता चल सके। लोगों का प्रशासन से निवेदन यह है कि शासन प्रशासन इसको संज्ञान में लेकर इस पर तुरंत कार्यवाही करें।