नॉर्थ ईस्ट इंडिया के लोगों के लिए हमेशा की तरह मसीहा बनकर उभरे आईपीएस रोबिन हिबू


कोरोना वायरस के चलते संपूर्ण देश में लॉक डाउन है। जिसकी वजह से कई जगहों पर लोग फस गए हैं। देश के अलग-अलग राज्यों में यह देखने को मिला है कि, भारत के नॉर्थ ईस्ट में रहने वाले लोगों के साथ अभद्रता देखी गई है। 



अधिकतर देश की मेट्रो सिटीज के अंदर नॉर्थ ईस्ट भारत के रहने वाले लोगों के साथ पक्षपात अभद्रता वाह छल का शिकार होते पाया गया है। जिनको न्याय और सहयोग देने के लिए देश की नॉर्थ ईस्ट इंडिया के लोगों के लिए काम कर रही सबसे बड़ी संस्थाओं में से एक हेल्पिंग हैंड भी है। जो आईपीएस रॉबिन हिबू द्वारा चालित है। और इस संस्था में तकरीबन दो करोड़ लोग जुड़े हैं जो समस्त देश के अंदर नॉर्थ ईस्ट के लोगों की सहायता करते हैं।



राजधानी दिल्ली और एनसीआर के अंदर भी यह देखा गया है कि कई नॉर्थ ईस्ट महिलाओं के साथ अभद्रता देखी गई है कई जगहों पर कोविड-19 के चलते कई मार्केट स्व दुकानों पर जाने से रोका गया कई जगहों पर उन्हें कोरोनावायरस भी बोला गया।


इस सबके चलते दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर रोबिन हिबू ने संस्था हेल्पिंग हैंड द्वारा नॉर्थ ईस्ट के लोगों की मदद की दिल्ली के अंदर उनको शेल्टर हाउस साथ ही राशन मुहैया करवा रहे हैं। दिल्ली की अलग-अलग जगहों पर रह रहे नॉर्थ-ईस्ट के लोगों के लिए मसीहा बनकर उभरे आईपीएस रोबिन हिबू। पुलिस कैंटीन से लेकर कई एनजीओ द्वारा मोहिया कराया जा रहा है नॉर्थ ईस्ट के लोगों को राशन।


हेल्पिंग हैंड संस्था समस्त देश के अंदर नॉर्थ ईस्ट वासियों के लिए काम कर रही है और हर तरह से यह कोशिश कर रही है जो नॉर्थ ईस्ट वासियों के लिए कहीं ना कहीं अलग-थलग भावना देखने को मिल रही है उसे दूर कर हिंदुस्तान की जो खूबसूरती है अनेकता में एकता की उस पर अमल किया जाए।