पीड़ित युवती ने रायपुरवा पुलिस पर अभद्रता एव जबरन समझौते का लगाया आरोप*

पीड़ित युवती ने रायपुरवा पुलिस पर अभद्रता एव जबरन समझौते का लगाया आरोप*



   _______________________
*पीड़ित युवती ने रायपुरवा पुलिस पर अभद्रता एव जबरन *समझौते का लगाया आरोप*
*February *19, 2020*


*कानपुर । शहर के रायपुरवा थाना क्षेत्र में छेड़छाड़ की शिकायत करने के लिए पहुंची युवती से पुलिसकर्मी ने ही अभद्रता कर दी ।  साथ ही कार्यवाही करने के बजाय पुलिस ने युवती पर ही तंज कसना शुरू कर दिया । केंद्र की मोदी सरकार लगातार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा लगा रही है । औए सुरक्षा के इंतेज़ाम कर रही हैं । वहीं राज्य में बैठी योगी सरकार के पुलिस कर्मी बेटियों के पढ़ने पर पुलिस वाले ही तंज कस रहे है बल्कि उन की* *सुरक्षा के बजाय अभद्रता कर रहे हैं । कानपुर की पीड़िता जब शिकायत करने पहुंची तो पुलिस कर्मियों ने कहा कि तुम्हें इतना एडवांस किसने बना दिया । *इसके बाद जबरन समझौता *लिखवा लिया ।*
*पुलिस की कार्यवाही से नाराज युवती ने मंगलवार को थाने में समझौता लिखवाने का वीडियो* *अपलोड कर दिया था जिसके बाद पुलिस प्रशासन कार्रवाई की बात कर रहा है ।रायपुरवा* *निवासी एक युवती महिलाओं से संबंधित एक पोर्टल पर ब्लॉग लिखती है । युवती का कहना है कि मकान मालिक से उसका विवाद चल रहा है । इसी विवाद में मकान मालिक के बेटे ने उसके *साथ मारपीट कर छेड़छाड़ की*
*जब वह शिकायत को लेकर रायपुरवा थाने पहुंची तो पुलिस ने उसी को कटघरे में खड़ा कर दिया* । *पीड़ित का आरोप है कि एक पुलिस कर्मी ने कहा कि ज्यादा पढ़ लिख गई हो, इतना एडवांस कौन बना दिया है..तुम्हारे पापा ने* *युवती ने इस बात की शिकायत *ट्विटर पर यूपी पुलिस को टैग *करते हुए की है ।*
*थाने में नहीं थी महिला सिपाही*


*युवती ने ट्विटर पर यह भी आरोप लगाया है कि प्रार्थना पत्र देने के बाद पुलिसकर्मियों ने उसे कई घंटे तक थाने में बिठाए रखा. इस दौरान एक भी महिला सिपाही वहां नहीं थी. पुरुष सिपाही ही उससे पूछताछ कर रहे थे ।*