चिकन की होम डिलीवरी के लिए प्रशासन ने दी अनुमति

➖➖➖➖➖➖➖
*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chief Kanpur*
➖➖➖➖➖➖➖➖
     *भ्रष्टाचार और जुर्म के खिलाफ हर पल आपके साथ*
➖➖➖➖➖➖➖➖



*मांसाहारियों के लिए खुशखबरी* 


*चिकन की होम डिलीवरी के लिए प्रशासन ने दी अनुमति*


*डिलीवरी ब्वॉय के जरिए शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में होगी चिकन की होम डिलीवरी*


*गोरखपुर । लॉक डाउन 2 में जिला प्रशासन ने मांसाहारी लोगों का ख्याल रखते हुए चिकन की होम डिलीवरी कराने का निर्णय लिया है।*




*हालांकि लॉक डाउन के पहले चरण में चिकन और मटन का मिलना दुश्वार था फिर भी मुंह मांगी कीमत पर कुछ सीमित लोगों की रसोई के लिए यह उपलब्ध हो जा रहा था। इस दौरान बकरे का मीट ₹1200 प्रति किलो तक बिका तो वही लाक डाउन से पहले ₹40 से ₹50 प्रति किलो तक बिकने वाला चिकन एक लंबी छलांग लगाते हुए ₹250 प्रति किलो तक पहुंच गया था।*



*बहरहाल प्रशासन ने मांसाहारी  लोगों के जायके को ध्यान में रखते हुए इस बार के लाक डाउन में रियायत दे दिया है । इसके लिए शहर के चार अलग-अलग क्षेत्रों में*  *होम डिलीवरी के माध्यम से* *चिकन की सप्लाई की जाएगी।*
*इस संबंध में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 देवेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि शहरी क्षेत्र में आयान ट्रेडर्स रसूलपुर, अनूप ट्रेडर्स पादरी बाजार, अंसारी ट्रेडर्स सहजनवां और परमहंस इंटरप्राइजेज कूड़ाघाट* *को चिकन की होम डिलीवरी के लिए परमिशन दी गई है ।*



*यह बाकायदा साफ सफाई का ध्यान रखते हुए चिकन की पैकिंग कराएंगे और अपशिष्टों का निस्तारण किसी निर्जन स्थान पर गड्ढे में करेंगे। इनके द्वारा डिलीवरी ब्वॉय के माध्यम से शहर के विभिन्न क्षेत्रों में चिकन की सप्लाई की जाएगी।* *आवश्यक वस्तुओं का प्रशासन द्वारा मूल्य निर्धारित किया जा रहा है ऐसे में मुर्गे के मीट का क्या रेट होगा, के सवाल पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने बताया कि अभी तक चिकन का कोई रेट का निर्धारित नहीं किया गया है ।*