मौसम सुहावना घाट जाने का बन गया मन? सावधान

कानपुर


तमाम बार बारिश होने के बाद मौसम सुहावना हो जाता है जिसके बाद तमाम लोग नदी के किनारे घाटों पर जाते हैं और कुछ वक्त व्यतीत कर आनंद लेते हैं। पर घाटों की स्थिति क्या है? 





उत्तर प्रदेश के शहर कानपुर में गंगा बैराज और अटल घाट मशहूर है अक्सर लोग वहां जाकर समय बिताते हैं क्योंकि गंगा बैराज के रास्ते हाईवे जुड़ता है तो कानपुर से बाहर के लोग भी आते जाते गंगा बैराज पर अपना समय बिता‌ लेते हैं। परंतु घाटों की स्थिति है खराब।


एंटी करप्शन इंडिया के अचित निरीक्षण में पाया गया तमाम लोग घाटों की साफ सफाई को लेकर सवाल एवं निराशा दिख रहे हैं। जनता का कहना है कि घाटों की साफ-सफाई का ध्यान सरकार को रखना चाहिए। तमाम गंदगी घाटों पर फैली है जिस कारण पर्यटकों की संख्या में भी कमी आ रही है। 





साथ ही कानपुर के गंगा बैराज में मछुआरों की अवैध रूप से मछली पकड़ने की प्रक्रिया निरंतर चलती रहती थी। औचक निरीक्षण में यह भी पाया कि बीते कई महीनों से मछली को अवैध रूप से पकड़ने की प्रक्रिया पर रोक लगी हुई है। इस संबंध में क्षेत्रीय चौकी में मौजूद पुलिसकर्मियों से भी बात हुई जिस पर पुलिसकर्मियों ने कहा इस घटना पर काफी लंबे समय से रोक है।


वही मछुआरों ने भी जानकारी देते हुए बताया कि अब मछली पकड़ने प्रशासन प्रशासन ने काफी कढ़ाई कर दी है।

Featured Post

भ्रष्ट लेखपाल का पर्दाफाश! एफ.आई.आर के हुए आदेश।

भ्रष्टाचार में लिफ्ट लेखपाल का हो गया पर्दाफाश डीएम के आदेश पर लेखपाल पर मामला दर्ज थाने को दिए गए आदेश कानूनी कार्यवाही कर गिरफ्तार करें ले...