क्रोनो वायरस के प्रभाव से बचाने के लिए यूरोप मैं फसे भारतीयों को लाया जाएगा वापस

*आशु  यादव की कलम कानपुर से खास रिपोर्ट ब्यूरो चीफ।*
<____________________>


*नई दिल्ली, एजेंसियां। चीन के बाहर कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित यूरोपीय देश इटली में फंसे भारतीयों को लाने के लिए एयर इंडिया का विमान शनिवार को दोपहर बाद रवाना होगा। वहीं, भारतीयों में कोरोना वायरस की जांच करने के लिए डॉक्टरों का एक दल शुक्रवार को रोम पहुंच गया।*



*एयर इंडिया एक विमान भेजेगा मिलान*


*नागरिक उड्डयन मंत्रालय में संयुक्त सचिव रूबीना अली ने कहा, 'इटली में फंसे भारतीयों को लाने के लिए एयर इंडिया एक विमान मिलान भेजेगा। विमान कल दोपहर बाद उड़ान भरेगा और रविवार सुबह दिल्ली एयरपोर्ट पर लैंड करेगा।'*


*लगभग 220 भारतीय छात्र फंसे हैं*


*वहीं, विदेश मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव दम्मू रवि ने कहा कि इटली के मिलान और उसके आस-पास के क्षेत्रों में लगभग 220 भारतीय छात्र फंसे हुए हैं। सरकार की प्राथमिकता उन्हें वापस लाने की है। अगर और कोई भी छात्र वहां रह गए हों तो वो दूतावास से संपर्क कर सकते हैं, जिसके बाद देखा जाएगा कि उनके लिए क्या किया जा सकता है।*


*वहीं, इटली की राजधानी रोम में भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर बताया कि भारतीय मेडिकल टीम यहां पहुंच गई है। यह टीम साप्ताहांत तक जांच का काम करेगी। भारत सरकार ने बुधवार को कहा था कि इटली और ईरान में भारतीयों को जांच के बाद वापस लाया जाएगा। उन्हीं लोगों को वापस लाने की बात भी कही गई थी, जिनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आएगी।*


*इस बीच, रोम हवाईअड्डे पर फंसे भारतीय छात्रों से दूतावास के अधिकारियों ने मुलाकात की और उन्हें वापस निकालने के लिए किए जा रहे उपायों के बारे में उन्हें जानकारी दी। स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक इटली में 1.6 लाख से ज्यादा भारतीय रहते हैं।*