उत्तर प्रदेश कानपुर पनकी: गैस की कालाबाजारी अपने चरम पर!

उत्तर प्रदेश कानपुर पनकी:


देश के अंदर तमाम क्षेत्रों में कालाबाजारी अपने चरम पर देखी जा रही है। चाहे वह दवाइयां हो खाने पीने का सामान हो या फिर घरेलू गैस। 



देश के अंदर लॉक डाउन के बाद कालाबाजारी ने अपनी गति बढ़ा दी है। और आम जनता को इसके चलते भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी ही एक कालाबाजारी की घटना उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर में पनकी से आ रही है। ‌ सूत्रों के हवाले से यह पता चला है की भारत गैस एजेंसी से विकास गुप्ता नामक एक शख्स गैस लेकर कालाबाजारी जोरों शोरों से कर रहा है। 


देश के अंदर आपातकाल स्थिति है। शासन प्रशासन ने अपनी तरफ से यह हिदायत भी दे दी है कि ऐसे समय में किसी भी तरह की कोई कालाबाजारी बर्दाश्त नहीं की जाएगी बावजूद इसके कुछ लोगों के कान में जूं नहीं रेंगती।



सूत्रों से पता चला है कि विकास गुप्ता पुत्र लक्ष्मी नारायण गुप्ता निवासी 610/1550 ई डब्ल्यू एस रतनपुर कॉलोनी पनकी कानपुर में चला रहा है भारत गैस की कालाबाजारी का धंधा। विकास नामक शख्स भारत गैस के घरेलू सिलेंडरों को भारी मात्रा में अपने घर में स्टाक कर लेता है। जिसके बाद वह ब्लैक में गैस और गैस सिलेंडर अवैध रूप से लोगों को बेचता है। साथ ही वैध गैस एजेंसी अपने ग्राहकों तक गैस सिलेंडर की डिलीवरी निशुल्क मुहैया कराती हैं। जबकि विकास अवैध गैस सिलेंडर के बावजूद भी गैस सिलेंडर की फ्री डिलीवरी नहीं करवाता।


आसपास के लोगों का कहना है की क्षेत्र में दबदबा होने के कारण कोई व्यक्ति इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाता। लॉक डाउन के बाद जैसे कालाबाजारी में चार चांद लग गए हैं और कालाबाजारी ने अपनी रफ्तार बढ़ा दी है। 


एक तरह से देखा जाए तो घर में इतनी भारी मात्रा में अवैध गैस सिलेंडर को रखना बहुत घातक हो सकता है। यह एक तरह से खुलेआम मौत को चुनौती है साथ ही आसपास रहने वाले लोगों को जान का भी जोखिम है।