किसान नेता के पुत्र के साथ असलाह की नोक पर अपहरण का प्रयास!

उत्तर प्रदेश कानपुर देहात भारतीय किसान यूनियन टिकैत जिला अध्यक्ष के बेटे का असलाह की नोक पर अपहरण के बाद मारपीट करने का आरोप! पुलिस पर लगाया आरोपियों का साथ देने का आरोप।

कानपुर

जहां योगी सरकार अपराध को राज्य में काम होने के दावे कर रही है वहीं कई ऐसी घटनाएं सामने आती हैं जो इन दावों को झुठला देती है। ऐसी ही एक घटना कानपुर देहात के हनुमंत विहार थाना क्षेत्र से सामने आई है जहां भारतीय किसान यूनियन टिकैत, जिला अध्यक्ष कानपुर देहात विपिन तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते महीने कुछ लोगों ने उनके बेटे का अपहरण किया जिसके बाद मारपीट की गई सीसीटीवी में कैद होने के बाद वहां से फरार हो गए। 




अब आरोप क्षेत्रीय थाना प्रभारी अमन विहार पर लगाया जा रहा है कि पुलिस आरोपियों पर कार्यवाही नहीं कर रही जबकि आरोपियों का सबूत सीसीटीवी में कैद है। वही पीड़ित के पिता द्वारा पुलिस पर यह आरोप है कि पुलिस मामले को जातिवाद का रूप देने का प्रयास कर रही है। 


इस घटना के संबंध में अब तक मुकदमा नहीं लिखा गया है। जिसके चलते किसान नेता विपिन तिवारी कानपुर पुलिस आयुक्त से मिले और अपनी पीड़ा व्यक्त करी। वही कानपुर पुलिस आयुक्त ने आश्वासन दिया है कि आपकी एफआईआर जल्द ही लिखी जाएगी एवं कार्रवाई की जाएगी। 


वही किसान नेता ने भी मीडिया से बात करते यह स्पष्ट किया है यदि पुलिस 26 जनवरी तक कार्रवाई नहीं करती है तो कानपुर कमिश्नरेट के दफ्तर के बाहर तमाम ट्रैक्टर लगा दिए जाएंगे और आंदोलन शुरू होगा जरूरत पड़ी तो राकेश टिकैत किसान नेता भी इसमें शामिल होंगे। 


Featured Post

क्या डीडीए 1991 में संसद के बनाए हुए 'वर्शिप एक्ट' को नहीं मानता है? 'मस्जिद टूटने की चीखें नहीं सुनाई देती : इमरान प्रतापगढ़ी

नई दिल्ली दिल्ली के महरौली इलाके में एक मस्जिद पर दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने बीती 30 जनवरी को गैरकानूनी ढांचा बताते हुए बुलडोजर चला द...